Ibadat Karo

इबादत करो

ए दुनिया के लोगो
ऊँची आवाज़ करो
गाओ ख़ुशी के गीत
उसका गुणगान करो

इबादत करो उसकी इबादत करो – २

याद रखो के वही एक खुदा है
हम को ये जीवन उसी ने दिया है
उस चारागाह से हम सब है आये
हम्दो सन्ना के हम गीत गाए
रब का तुम शुक्र करो
ऊँची आवाज़ करो
गाओ ख़ुशी के गीत
उसका गुणगान करो

इबादत करो उसकी इबादत करो – २

नामे खुदावंद कितना मुबारख
मेरा खुदावंद कितना भला है
रहमत है उसकी सदियों पुरानी
वफ़ा का अज़ल से येही सिलसिला है
उस पर ईमान धरो
उसके घेर आओ चलो
गाओ ख़ुशी के गीत
उसका गुणगान करो

इबादत करो उसकी इबादत करो

Ibadat Karo

Aye duniya ke logo
unchi aawaz karo
gaao khushi ke geet
uska gungaan karo

Ibadat karo uski ibadat karo – 2

Yaad rakho ke wohi ek khuda hai
hum ko ye jeewan usine diya hai
us charagaah se hum sab hai aae
hum-do sanna ke hum geet gaye
raab ka tum shuker karo
unchi aawaz karo
gaao khushi ke geet
uska gungaan karo

Ibadat kato uski ibadat karo

name khudawand kitna mubarakh
mera khudawand kitna bhala hai
rehmat hai uski sadiyon puraani
wafa ka aazal se yehi silsila hai
us per imaan dharo
uske ghar aao chalo gaao khushi
ke geet uska gungaan karo

Ibadat kato uski ibadat karo

Song:- ibadat karo
Artist:- Anil Kant

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *