Yahova Charavaaha Mera

यहोवा चरवाहा मेरा, कोई घटी मुझे नहीं है

यहोवा चरवाहा मेरा, कोई घटी मुझे नहीं है,
हरी चराइयों में मुझे, स्नेह से चराता वह है।

1.मृत्यु के अन्ध्कार से, मैं जो जाता था,
   प्रभु यीशु करुणा से, तसल्ली मुझे दी है।

2.शत्राुओं के सामने, मेज को बिछाता हैे,
   प्रभु ने जो तैयार की, मन मेरा मगन है।

3.सिर पर वह तेल मला है, अभिषेक मुझे किया है,
   दिल मेरा भर गया है, और उमड़ भी रहा है।

4.सर्वदा प्रभु के घर में, करूँगा निवास जो मैं,
   करुणा भलाई भी उसकी, आनन्दित मुझे करती है।

Yahova Charavaaha Mera

Yahova charavaaha mera, koee ghatee mujhe nahin hai,
haree charaiyon mein mujhe, sneh se charaata vah hai.

1.Mrityu keh andhkaar se, main jo jaata tha,
  prabhu yeeshu karuna se, tasallee mujhe dee hai.

2.Shatraauon ke saamane, mej ko bichhaata hai,
  prabhu ne jo taiyaar kee, man mera magan hai.

3.Sirr par vah tel mala hai, abhishek mujhe kiya hai,
  dil mera bhar gaya hai, aur umad bhee raha hai.

4.Sarvada prabhu ke ghar mein, karoonga nivaas jo mey,
   karuna bhalaee bhee usakee, aanandit mujhe karatee hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *