Pyasa Hiran Jaise Dhunde hai Jal Ko

प्यासा हिरन जैसे ढूँढ़े है जल को – Lyrics Song

प्यासा हिरन जैसे, ढूंढे है जल को
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
प्यासा हिरन जैसे, ढूंढे है जल को
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा

तू ही मेरे मन की अभिलाषा
तू ही मेरे मन की अभिलाषा
तेरी पूजा निस दिन करता रहूँ मैं
तेरी पूजा निस दिन करता रहूँ मैं
प्यासा हिरन जैसे, ढूंढे है जल को
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
प्यासा हिरन जैसे, ढूंढे है जल को
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा

सोना चाँदी मैं तो ना मांगू
सोना चाँदी मैं तो ना मांगू
मन तेरे प्रेम से भरता रहूं मैं
मन तेरे प्रेम से भरता रहूं मैं
प्यासा हिरन जैसे, ढूंढे है जल को
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
प्यासा हिरन जैसे, ढूंढे है जल को
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा

तू जो बन जाए श्रद्धा सुमन
तू जो बन जाए श्रद्धा सुमन
पुष्प पराग सा झरता रहूं मैं
पुष्प पराग सा झरता रहूं मैं
प्यासा हिरन जैसे, ढूंढे है जल को
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
प्यासा हिरन जैसे, ढूंढे है जल को
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा
ऐसे प्रभु मैं तुझे खोज रहा

Pyasa Hiran – Madhur Geet Hymns
Composer and Music Director – Fr. Charles Vas SVD
Singer – Kavita Krishnamurthy
Lyrics – Rajesh Johri